content='width=device-width, initial-scale=1' /> मन के भाव - हिंदी काव्य संकलन: शुभ वैलेंटाइन्स दिवस

फ़रवरी 14, 2021

शुभ वैलेंटाइन्स दिवस

मैं नदी हूँ, तू सागर है |


मैं प्यासा हूँ, तू सावन है |

मैं भँवरा हूँ, तू उपवन है |

मैं विषधर हूँ, तू चन्दन है |

मैं पतंग हूँ, तू पवन है |

मैं फिज़ा हूँ, तू गगन है |

मैं सुबह हूँ, तू दिनकर है |

मैं निशा हूँ, तू पूनम है |

मैं रुग्ण हूँ, तू औषध है |

मैं बेघर हूँ, तू भवन है |

मैं शिशु हूँ, तू दामन है |

मैं देह हूँ, तू श्वसन है |

मैं भक्त हूँ, तू भगवन है |

मैं हृदय हूँ, तू धड़कन है ||

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें